वर्ड प्रोसेसिंग (लिब्रे ऑफिस राइटर)

परिचय

राइटर (Writer) वर्ड प्रोसेसिंग (Word Processing) लिब्रेऑफिस (LibreOffice) द्वारा विकसित एक फ्री और ओपन-सोर्स ऑफिस सुइट (Suit) है| इसका प्रयोग किसी डोक्यूमेंट (Document) को बनाने उसमें कुछ बदलाव करने के लिए किया जाता है|
इसमें अनेक प्रकार के टूल्स होते हैं, जो डोक्यूमेंट बनाने के साथ-साथ उसमें Editing, Formatting, आदि करने में सहायता करते है| इसका प्रयोग आकर्षक डोक्यूमेंट बनाने के लिए किया जाता है|
यह सामान्य सुविधाओं के साथ-साथ Spelling check, Theaurus, Hyphenation, Autocorrect, Find and Replace, Automatic Generation of Tables of Contents and Indexes, Mail Merge आदि की सुविधा को प्रदान है|

वर्ड प्रोसेसिंग के बेसिक्स (Basic of Word Processing)

वर्ड प्रोसेसिंग सॉफ्टवेयर का प्रयोग टैक्स्ट आधारित डोक्यूमेंट क्रिएट करने के लिए किया जाता है| वर्ड प्रोसेसर एक सॉफ्टवेयर पैकेज है, जो टैक्स्ट को प्रोसेस करता है और संगठित डोक्यूमेंट बनाता है| वर्ड प्रोसेसिंग के कार्य के लिए अनेक सॉफ्टवेयर पैकेज उपलब्ध है| वर्ड प्रोसेसिंग के कुछ उदाहरण AppleWorks, Microsoft Word, StarOffice, TextMatter, WordPerfect, OpenOffice. org Writer, LibreOffice Writer Deeefo nQ-

यहाँ हम पाठ्यक्रम के अनुसार लिब्रेऑफिस राइटर के विषय में पढ़ेंगे, जो वर्ड प्रोसेसिंग की सुविधा प्रदान करता है|

राइटर की प्रमुख विशेषताएँ निम्न प्रकार है-

  • टेम्पलेट और स्टाइल
  • फ्रेम, कॉलम और टेबल के साथ पेज लेआउट मैथड|
  • ग्राफिक्स, स्प्रैडशीट और अन्य ऑब्जेक्ट की एम्बेडिंग या लिंकिंग
  • बिल्ट-इन ड्राइंग टूल्स
  • डोक्यूमेंटों को एक एकल डोक्यूमेंट में संग्रह करने के लिए मास्टर डोक्यूमेंट|
  • संशोधन के दौरान ट्रैकिंग में परिवर्तन
  • बुकमार्क सहित PDF को निर्यात (Export) करना|

वर्ड प्रोसेसिंग पैकेज लिब्रेऑफिस राइटर को खोलना (Opening Word Processing Package, LibreOffice Writer)

लिब्रेऑफिस राइटर को प्रारम्भ करने के लिए Start बटन -> All Programs -> LibreOffice 6.2 -> LibreOffice Writer पर क्लिक करें|
यह लिब्रेऑफिस राइटर को ब्लैंक डोक्यूमेंट के साथ प्रारम्भ करेगा| बाय डिफॉल्ट डोक्यूमेंट का नाम Untitled 1 तथा एक्सटेंशन .odt होगा| इसकी मुख्य विण्डो निम्न प्रकार से प्रदर्शित होगी|

राइटर विण्डो के मुख्य भागों का विवरण निमन्वत है-

फाइल टैब (File Tab) यह विण्डो के सबसे ऊपर बाएँ कोने में स्थित होता है, जिस पर क्लिक करने से एक मेन्यू प्रदर्शित होता है| इस मेन्यू में New, Open, Save, Save As, Print, Send, Close आदि विकल्प होते हैं|

टाइटल बार (Title Bar) यह खुली हुई विण्डो के सबसे ऊपर होता है| इसमें वर्तमान में खुले डोक्यूमेंट का नाम दर्शाया जाता है| टाइटल बार के दाई ओर तीन कंट्रोल्स बटन होते हैं-

  • मिनीमाइज बटन (Minimize Button)
  • मैक्सीमाइज बटन (Maximize Button)
  • क्लोज बटन (Close Button)

रूलर (Ruler) यह डोक्यूमेंट विण्डो के टॉप पर और उसके बाईं ओर दिखाई देता है| रूलर का प्रयोग किसी डॉक्यूमेंट में टैक्स्ट के क्षैतिज और उर्ध्वाधर (Horizontal and Vertical) एलाइनमेण्ट को देखने व सेट करने के लिए करते हैं|

जूम कंट्रोल (Zoom Control) यह स्लाइडर को शामिल करता है| जूम फैक्टर को बढ़ाने या घटाने के लिए आप जूम इन (Zoom in) या आउट करने के लिए बाएँ या दाएँ स्लाइड कर सकते हैं|

स्टेटस बार (Status Bar) यह राइटर विण्डो के सबसे नीचे एक पट्टी होती है| यह एक्टिव डॉक्यूमेंट के बारे में समस्त जानकारियों को दर्शाने के लिए प्रयोग होता है|

स्क्रॉल बार्स (Scroll Bars) इनका प्रयोग डॉक्यूमेंट को क्षैतिज तथा ऊर्ध्वाधर स्क्रॉल करने के लिए किया जाता है| ये प्रायः दो प्रकार के होते हैं-

  • ऊर्ध्वाधर स्क्रॉल बार (Vertical Scroll Bar)- इससे डॉक्यूमेंट के पेजों तथा तत्वों को ऊपर या नीचे करके देखा जा सकता है|
  • क्षैतिज स्क्रॉल बार (Horizontal Scroll Bar)- यदि डॉक्यूमेंट का आकार 100% से ज्यादा हो, तो इससे डॉक्यूमेंट के पेजों को दाईं या बाईं ओर करके देखा जा सकता है|

टैक्स्ट एरिया (Text Area) यह विण्डो का आयताकार क्षेत्र होता है, जिसमें आप कुछ टैक्स्ट टाइप करते हो या कोई चित्र या वस्तु जोड़ते हो|

इन्सर्शन पॉइंट (Insertion Point) इन्सर्शन पॉइंटर को कर्सर के नाम से भी जाना जाता है| यह किसी टैक्स्ट के प्रारम्भिक बिन्दु को दर्शाता है| कर्सर जिस स्थान पर होता है, उसी स्थान पर टैक्स्ट टाइप होता है|

मेन्यू बार (Menu Bar) यह टाइटल बार के नीचे होता है| यूजर जब किसी मेन्यू को चुनते हैं, तो उसका सब-मेन्यू (Sub-Menu) अन्य विकल्पों के साथ प्रदर्शित होता है| मेन्यू बार के कुछ प्रमुख विकल इस प्रकार है|

(i) फाइल टैब (File Tab) इस टैब में ऐसे विकल्प होते हैं, जो पूरे डॉक्यूमेण्ट पर एप्लाई होते हैं; जैसे- Open, Save, Export As आदि| यह लिब्रेऑफिस राइटर का पहला टैब होता है|

(ii) एडिट टैब (Edit Tab) इस टैब में डॉक्यूमेण्ट को एडिट करने के लिए विकल्प शामिल हैं; जैसे- Undo, Find & Replace, Cut, Copy, Paste आदि|

(iii) व्यू टैब (View Tab) इस टैब में डॉक्यूमेण्ट के प्रदर्शन को नियंत्रित करने के लिए विकल्प शामिल हैं; जैसे- Zoom, Toolbars, Status Bar, Rulers, Scollbars आदि|

(iv) इन्सर्ट टैब (Insert Tab) इस टैब में डॉक्यूमेण्ट में एलीमेण्ट इन्सर्ट करने से सम्बन्धित विकल्प होते हैं; जैसे- Header and Footer, Page Break, Chart, Hyperlink, Page Number आदि|

(v) फॉर्मेट टैब (Format Tab) इस टैब में डॉक्यूमेण्ट के लेआउट को फॉर्मेट करने के लिए कमाण्ड शामिल है; जैसे- Page, Bullets and Numbering, Paragraph, Character आदि|

(vi) टेबल टैब (Table Tab) यह टैब में डॉक्यूमेण्ट में टेबल इन्सर्ट और एडिट करने के लिए विकल्प शामिल हैं; जैसे- Insert, Delete, Select, Formula आदि|

(vii) फॉर्म टैब (Form Tab) इस टैब में फॉर्म कण्ट्रोल्स से सम्बन्धित विकल्प शामिल होते हैं; जैसे- Text Box, Check Box, List Box, Label आदि|

(vii) टूल्स टैब (Tools Tab) यह टैब Spelling, Thesaurus, Language, Macros, Mail Merge Wizard, Customize आदि विकल्पों को शामिल करता है|

(viii) विण्डो टैब (Window Tab) यह टैब विण्डो डिस्प्ले करने से सम्बन्धित विकल्प प्रदर्शित करता है; जैसे- New Window, Close Window आदि|

(ix) हेल्प टैब (Help Tab) इस टैब का उपयोग यूजर को उस प्रोग्राम के बारे में किसी भी विषय को सर्च करने, फीडबैक सेन्ड करने आदि कार्य के लिए किया जाता है| Next

1 2 3 4 5 6