कम्प्यूटर शब्दावली

A

ऐक्युमुलेटर (Accumulator) ऐक्युमुलेटर एक प्रकार का रजिस्टर होता है, जो प्रोसेसिंग के दौरान डाटा और निर्देशों को संग्रहीत करता है|

एक्टिव सैल (Active Cell) स्प्रैडशीट में प्रयुक्त होने वाला वह सैल (Cell), जिसमें यूजर मौजूद समय में कार्य कर रहा होता है, एक्टिव सैल कहलाता है|

एक्टिव डिवाइस (Active Device) वह उपकरण (Device), जिसमें कोई कार्य विद्युत प्रवाह द्वारा एडिट किया जाता है, एक्टिव डिवाइस कहलाता है|

एक्टिव विण्डो (Active Window) कम्प्यूटर में उपस्थित वह विण्डो, जो यूजर द्वारा वर्तमान समय में सक्रिय है, एक्टिव विण्डो कहलाती है|

ऐल्गोरिथ्म (Algorithm) कम्प्यूटर को दिए जाने वाले अनुदेशों का वह क्रम, जिसके द्वारा किसी कार्य को पूरा किया जाता है, ऐल्गोरिथ्म कहलाता है|

एलाइनमेण्ट (Alignment) डाटा में पैराग्राफ को व्यवस्थित करने की प्रक्रिया एलाइनमेण्ट कहलाती है|

एल्फान्यूमेरिक (Alphanumeric) एल्फाबेट्स और नम्बर्स के समुच्चय को एल्फान्यूमेरिक कहते हैं| इसमें (A-Z) अक्षरों तथा (0-9) अंकों के समुच्चय होते हैं|

अर्थमैटिक लॉजिक यूनिट (Arithmetic Logic Unit) यह CPU के कम्पोनेण्ट का मुख्य एक्जिक्यूशन भाग है| यह अधिक संख्या में अर्थमैटिक तथा लॉजिकल गणनाएँ कर सकता है|

एनालॉग कम्प्यूटर (Analog Computer) ये ऐसे कम्प्यूटर होते हैं जो अंकों की सहायता से गणनाएँ नहीं करते हैं, बल्कि लगातार संकेतों को मापकर गणनाएँ करते हैं|

एण्टीवायरस (Antivirus) एण्टीवायरस निर्देशों का समूह अथवा प्रोग्राम होता है, जिसके द्वारा कम्प्यूटर को वायरस से होने वाली क्षति से बचाया जाता है|

एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर (Application Software) किसी विशेष कार्य के लिए बनाए गए एक या अधिक प्रोग्रामों का समूह एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर कहलाता है|

आर्टिफिशियल इण्टेलिजेन्स (Artificial Intelligence) मानवीय गुणों के अनुरूप सोचने, समझने एवं तर्क करने की क्षमता को, कम्प्यूटर की भाषा में आर्टिफिशियल इण्टेलिजेन्स कहते हैं|

असेम्बलर (Assembler) कम्प्यूटर में प्रयुक्त वह प्रोग्राम, जो असेम्बली भाषा को मशीनी भाषा में परिवर्तित करता है, असेम्बलर कहलाता है|

ऑथेंटीकेशन (Authentication) वह पद्धति, जिसके द्वारा कम्प्यूटर के यूजर की वैधता की पहचान की जाती है|

ऑक्जिलरी मैमोरी (Auxiliary Memory) इसे सेकेण्डरी मैमोरी (Secondary Memory) भी कहा जाता है| यह प्राइमरी मैमोरी (Primary Memory) से अधिक क्षमता वाली तथा उसकी सहायता होती है|

B

बैकस्पेस कुंजी (Backspace Key) यह कुंजी, टैक्स्ट को डिलीट करने के लिए प्रयोग की जाती है| बैकस्पेस कुंजी टैक्स्ट को बाईं ओर से डिलीट करती है|

ब्लॉग (Blog) यह वर्ल्ड वाइड वेब पर एक डिस्कशन या जानकारी वाली साइट होती है, जिसमें टैक्स्ट प्रविष्टियाँ (Entries) शामिल होती है|

बिट (Bit) बाइनरी अंक अर्थात 0 या 1 को बिट कहा जाता है| यह कम्प्यूटर की सबसे छोटी इकाई है|

बाइट (Byte) 8 बिटों को सम्मिलित रूप से बाइट कहा जाता है| एक किलोबाइट में 1024 बाइट्स होते हैं| कम्प्यूटर की मैमोरी को मेगाबाइट में मापा जाता है|

बैकअप (Backup) कम्प्यूटर द्वारा डिस्क पर उपस्थित सभी सूचना की एक कॉपी बना दी जाती है, जिसे बैकअप कहते हैं| भविष्य में आवश्यकता पड़ने पर बैकअप में स्टोर डाटा को रिस्टोर कर उपयोग किया जाता है|

बैंडविड्थ (Bandwidth) डाटा संचरण में प्रयोग की जाने वाली आवृति (Frequency) की उच्चतम और निम्नतम सीमा का अन्तर बैंडविड्थ कहलाता है| इसे बिट्स प्रति सेकेण्ड (BPS) से मापते हैं|

बारकोड (Barcode) मुख्य रूप से बारकोड विभिन्न चौड़ाई की ऊर्ध्वाधर पट्टियाँ होती हैं, जोकि एल्फान्यूमेरिक डाटा को व्यक्त करती हैं| बारकोड किसी भी उत्पाद के कोड (Code) को प्रदर्शित करता है|

बैच प्रोसेसिंग (Batch Processing) यह एक ऑपरेटिंग सिस्टम है जिसमें किसी प्रोग्राम को बैच के रूप में एक्जीक्यूट किया जाता है|

बायोमैट्रिक डिवाइस (Biometric Device) यह डिवाइस जो दो व्यक्तियों के भौतिक गुणों (फिंगर प्रिण्ट, हस्तरेखाएँ, आवाज आदि) की पहचान करती है|

ब्रॉडबैण्ड (Broadband) यह एक कम्प्यूटर नेटवर्क होता है, जिसके संचरण की गति 1 मिलियन बिट्स प्रति सेकेण्ड (Mbps) या इससे भी अधिक होती है|

ब्राउजर (Browser) वह सॉफ्टवेयर जो HTML फाइलों को वेब पेजों के रूप में प्रदर्शित करता है| ब्राउजर के माध्यम से हम इण्टरनेट पर उपलब्ध इन्फॉर्मेशन को देख सकते हैं|

बफरिंग (Buffering) यह एक मैमोरी डिवाइस का ऐसा प्रोसेस है, जिसमें डाटा को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाते समय अस्थायी रूप से स्टोर किया जाता है|

बस (Bus) एक प्रकार का वह मार्ग है, जो डाटा या इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल को एक स्थान से दूसरे स्थान तक लेकर जाता है|

ब्लूटूथ (Bluetooth) यह एक ऐसी वायरलेस (बिना तार वाली) तकनीक है, जिसमें बहुत छोटी दूरी पर स्थित दो माध्यमों में डाटा का आदान-प्रदान किया जा सकता है|

बग (Bug) यह एक प्रकार की त्रुटि होती है, जो कम्प्यूटर में उपस्थित प्रोग्रामों में पाई जाती है| बग को हटाने की प्रक्रिया डीबगिंग (Debugging) कहलाती है|

C

चिप (Chip) यह सामान्यतः सिलिकॉन अथवा अन्य अर्द्धचालकों से बना छोटा टुकड़ा होता है, जिस पर विभिन्न प्रकार के कार्यों को पूरा करने के लिए इलेक्ट्रॉनिक सर्किट बने होते हैं| इसे इण्टीग्रेटिड सर्किट भी कहते हैं|

सीडी-आर/डबल्यू (CD-R/W) इसे विस्तृत रूप से Compact Disk-Read/Write कहा जाता है| यह एक स्टोरेज डिवाइस है, जिसमें डाटा को बार-बार लिखा तथा पढ़ा जा सकता है|

सी डी-आर (CD-R) इसे विस्तृत रूप से Compact Disk-Recordable कहा जाता है| इस स्टोरेज डिवाइस में डाटा को केवल पढ़ा जा सकता है| लेकिन पहले से संग्रहीत डाटा में कोई भी परिवर्तन नहीं किया जा सकता है|

सैल (Cell) कॉलम और रॉ से निर्मित भाग को सैल कहा जाता है|

सीपीयू (CPU) इसका विस्तृत रूप Central Processing Unit है| यह कम्प्यूटर में होने वाली सभी क्रियाओं की प्रोसेसिंग करता है| यह कम्प्यूटर का मस्तिष्क कहलाता है|

कैरेक्टर प्रिण्टर (Character Printer) इसकी विशेषता यह है कि यह एक बार में केवल एक ही कैरेक्टर (जैसे- अंक, अक्षर अथवा कोई भी चिन्ह) को प्रिण्ट करता है| इसे डॉट मैट्रिक्स प्रिण्टर भी कहते हैं|

चैट (Chat) इण्टरनेट के माध्यम से दो उपयोगकर्ताओं के बीच स्थित वास्तविक संचार चैट कहलाता है|

क्लिक (Click) माउस के बटन को दबाना 'क्लिक' करना कहलाता है|

चार्ट (Chart) वर्कशीट डाटा के पिक्टोरियल एवं ग्राफिकल प्रेजेण्टेशन को चार्ट कहते हैं|

कम्युनिकेशन प्रोटोकॉल (Communication Protocol) कम्युनिकेशन को सरल तथा सुविधाजनक बनाने के लिए कई प्रकार के नियम बनाए जाते हैं जिन्हें कम्प्यूटर भाषा में कम्युनिकेशन प्रोटोकॉल कहते हैं|

क्लाइण्ट कम्प्यूटर (Client Computer) वह कम्प्यूटर, जो नेटवर्क में सर्वर को सूचना के आदान-प्रदान की सेवा प्रदान करता है, क्लाइण्ट कम्प्यूटर कहलाता है|

क्लिपआर्ट (ClipArt) यह कम्प्यूटर में उपस्थित चित्रों तथा इमेजों का एक समूह है|

कम्पोनेण्ट (Component) विशेष रूप से कुछ हार्डवेयर का एक हिस्सा कम्पोनेण्ट कहलाता है|

कम्पाइल (Compile) उच्च स्तरीय तथा निम्न स्तरीय भाषाओं को मशीनी भाषा में बदलना कम्पाइल करना कहलाता है|

कम्पाइलर (Compiler) उच्च स्तरीय तथा निम्न स्तरीय भाषाओं को मशीनी भाषा में बदलना कम्पाइल करना कहलाता है|

कमाण्ड (Command) कम्प्यूटर में किसी कार्य को पूरा करने के लिए जब कोई निर्देश दिया जाता है, तो उसे कमाण्ड कहते हैं|

कोडिंग (Coding) प्रोग्रामिंग भाषा में अनुदेशों को लिखने की क्रिया कोडिंग कहलाती है|

क्लिपबोर्ड (Clipboard) यह सॉफ्टवेयर की एक सुविधा है जिसके माध्यम से किसी डाटा को अल्पकाल के लिए, मैमोरी में स्टोर किया जाता है तथा डाटा ट्रान्सफर के लिए इसका प्रयोग होता है|

कम्प्यूटर (Computer) यह गणना करने वाला एक यंत्र है, जो यूजर द्वारा प्राप्त निर्देशों की प्रोसेसिंग करके उसका उपयुक्त परिणाम आउटपुट डिवाइस के द्वारा प्रदर्शित करता है|

कम्प्यूटर एडेड डिजाइन (Computer Aided Design) किसी कम्प्यूटर सिस्टम में डिजाइन के निर्माण, मॉडिफाई विश्लेषण या अनुकूलन में कम्प्यूटर एडेड डिजाइन का प्रयोग किया जाता है|

कम्प्यूटर एडेड मैन्युफैक्चरिंग (Computer Aided Manufacturing) सॉफ्टवेयर का प्रयोग मशीन टूल्स के निर्माण और मशीन से सम्बन्धित उपकरणों को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है|

कम्प्यूटर नेटवर्क (Computer Network) एक ऐसा नेटवर्क जो एक कम्प्यूटर से दूसरे कम्प्यूटर पर डाटा के आदान-प्रदान की अनुमति देता है, कम्प्यूटर नेटवर्क कहलाता है|

कण्ट्रोल यूनिट (Control Unit) यह सीपीयू का वह भाग होता है, जो इसके ऑपरेशन को संचालित करता है| इस यूनिट का कार्य आउटपुट डिवाइस की गतिविधियों को निर्धारित करना है|

कण्ट्रोल पैनल (Control Panel) यह माइक्रोसॉफ्ट विण्डोज ग्राफिकल यूजर इण्टरफेस का एक भाग है, जो यूजर को सिस्टम की सैटिंग ठीक करने की अनुमति देता है|

कट (Cut) किसी डॉक्यूमेण्ट के डाटा को कट करके क्लिपबोर्ड पर रखने के लिए कट कमाण्ड का प्रयोग किया जाता है|

क्रिप्टोग्राफी (Cryptography) किसी डाटा तथा निर्देशों को सिफर टैक्स्ट के द्वारा संरक्षित करने तथा आवश्यकता पड़ने पर पुनः सेव किए गए डाटा तथा निर्देश को प्राप्त करने की प्रक्रिया को क्रिप्टोग्राफी कहा जाता है|

सीडी-रोम (CD-ROM) यह भण्डारण युक्ति है, जोकि प्लास्टिक की बनी होती है तथा इसमें डाटा लेजर बीम की सहायता से स्टोर किया जाता है| इसकी भण्डारण क्षमता 700 MB (80 मिनट) होती है|

कर्सर (Cursor) टैक्स्ट लिखते समय कम्प्यूटर स्क्रीन पर ब्लिंक करने वाली रेखा को कर्सर कहते हैं| Next

1 2 3 4